Jai Prakash Evening Inter Collage Hajipur, Inter College, Maulana Mazharul Haque university

About College

जय प्रकाश इवनिंग इन्टर काॅलेज एक परिचय
गंगा-गंडक के पावन संगम स्थली पर देश के महान् स्वतंत्रता सेनानी लोकनायक जय प्रकाश नारायण के नाम पर स्थापित ‘‘जय प्रकाश इवनिंग इन्टर कॉलेज’’ की स्थापना 19 मई 1985 को वैशाली जिला के कुतुबपुर (चेचक), प्रखण्ड-बिदुपुर के निवासी, (जे0 पी0 आन्दोलन के प्रखर छात्र नेता) समाजसेवी श्री संजय वर्मा द्वारा किया गया है। श्री वर्मा द्वारा राज्य में कई अन्य शिक्षण संस्थाओं की स्थापना की गई है, जिसमें हिन्दी शिक्षापीठ, पटना, विश्वम्भर नाथ वर्मा मेमोरियल काॅलेज आॅफ मैनेजमेन्ट एण्ड टेक्नोलाॅजी पटना, भारतीय औद्योगिक प्रशिक्षण केन्द्र, हाजीपुर (वैशाली) एवं इण्डियन इन्सटीच्यूट आॅफ मेडिकल एडुकेशन एण्ड रिहैब्लीटेशन टेक्नोलाॅजी, पटना प्रमुख हैं।

जय प्रकाश इवनिंग इन्टर काॅलेज, औद्योगिक क्षेत्र, हाजीपुर (वैशाली) राष्ट्रीय राज मार्ग- 103 (हाजीपुर-जन्दाहा रोड) में स्थापित है।

काॅलेज के भवन का शिलान्यास काॅलेज के संस्थापक सचिव के पुज्य पिता- स्व0 विश्वम्भर नाथ वर्मा के कर कमलो द्वारा लोकनायक जय प्रकाश नारायण के जन्मदिवस 11 अक्टूबर, 1995 को किया गया था।

जय प्रकाश इवनिंग काॅलेज, तत्कालीन बिहार इंटरमीडिएट शिक्षा परिषद्, पटना एवं वर्तमान में बिहार विद्यालय परीक्षा समिति (उच्च माध्यमिक), पटना से मान्यता प्राप्त है तथा यहाँ इंटरमीडिएट कला एवं विज्ञान विषय में शिक्षण दिया जाता है। काॅलेज में मौलाना मजहरूलहक अरबी एवं फारसी विश्वविधालय, पटना का ‘‘ज्ञान संसाधन केन्द्र’’ भी स्थापित है, जहाँ बैचलर स्तर की बी0 सी0 ए0, बी0 बी0 ए0, बैचलर आॅफ लाइब्रेरी साइंस तथा डिप्लोमा स्तर की पंचायती राज एकाउन्टेन्सी, ओरियस्न्टल लाइब्रेरी सहित कई अन्य विषयों में व्यवसायिक कोसों की नियमित शिक्षा दी जाती है।